This website your browser does not support. Please upgrade your browser Or Use google Crome
';
नयी घोषणाएं
अन्य लिंक्स
अनुसंधान संसाधन, सेवा सुविधाएं और मंच

अनुसंधान संसाधन, सेवा सुविधाएं एवं मंच, आयुर्विज्ञान एवं जैव प्रौद्योगिकी के विभिन्न क्षेत्रों को आगे बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण बहुविषयी, सहभागितापूर्ण अनुसंधान संसाधनों के एक विस्तृत परिसर को आधार प्रदान करते हैं।

अनुदान निधि अनुसंधान संस्थानों अथवा विश्वविद्यालयों को आधुनिक यंत्रों या केंद्रीय प्रयोगशालाओं, जंतुघरों जैसी अनुसंधान सेवा सुविधाओं की स्थापना, प्राथमिक और उन्नत अनुसंधान एवं विकास के माध्यम से वैज्ञानिक ज्ञान पैदा करना, जीएम पादपों, टीकों, जैसे अनुसंधान परिणामों का मान्यकरण और प्रसार तथा जीनी भंडारों, विशिष्ट राष्ट्रीय प्राथमिकता क्षेत्रों में उच्च अनुसंधान के लिए मंच तैयार करने में समर्थ बनाती है।

इस निधि का लक्ष्य वैज्ञानिक ज्ञान की प्रगति तथा गुणवत्तापूर्ण एवं कुशल कर्मचारियों का विकास और अंततः आवश्यक वैज्ञानिक इन्फ्रास्ट्रक्चर के माध्यम से व्यवसायीकरण के लिए प्रभावी और परिष्कृत प्रौद्योगिकियों का विकास है।

इस प्रकार की बायोटैक सुविधाओं को विश्वविद्यालय अथवा संस्थान के अंदर या बाहर सांझी अनुसंधान सुविधा के रूप में स्थापित करने का सिद्धांत मूल्य प्रभावी है और विभिन्न विषयों के बीच सहभागिता को प्रेरित करता है। इसके अतिरिक्त वैज्ञानिक समुदाय को बड़े निवेशों के साथ निर्मित सुविधाएं सेवा प्रदान करने तथा व्यवहारिक प्रशिक्षण के द्वारा कुशल कर्मचारियों का विकास करने के लिए प्रोत्साहित की जाती हैं।

उदेश्य
  • विश्वविद्यालयों अथवा संस्थानों में आयुर्विज्ञान एवं जैवप्रौद्योगिकी में आर एंड डी के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर एवं सुविधाओं की स्थापना।
  • सहभागिता या सेवा आधार पर स्थापित इन्फ्रास्ट्रक्चर के उपयोग को प्रोत्साहन।
  • जैव पदार्थ़ों के मंडारण के लिए राष्ट्रीय डिपोजिटरियों की स्थापना।
  • उच्च गुणवत्ता के वायरसों, बैक्टीरिया और कवकों तथा कोशिका अनुक्रमों की संतत आपूर्ति सुनिश्चित करना।
  • जीन भंडार और उन्नत अनुक्रमण सुविधा
  • देशज जैव रासायनिक अभिक्रमकों के विकास को प्रोत्साहन
  • चिकित्सीय एवं क्षेत्र परीक्षण सुविधाएं,
  • सिन्क्रोट्रॉन बीम लाइनों तक पहुंच,
  • जंतुघर सुविधाएं,
  • राष्ट्रीय नर-वानर अनुसंधान केंद्र,
  • जैव संकुल,
  • जीएलपी प्रमाणन प्राप्त प्रयोगशालाएं,
  • वायरसी एव नियामक जांच सुविधाएं,
  • जैव ऊष्मायित्र,
  • बायोटैक पार्क,
  • राष्ट्रीय जीन वेक्टर प्रयोगशालाएं,
  • द्वीपक कोशिकी संसाधन केंद्र,
  • मानव ऊतक एवं अंग संसाधन तथा जंतु प्रौद्योगिकी मंच,
  • क्षतिविहीन इमेजिंग और स्पेक्ट्रमदर्शी