This website your browser does not support. Please upgrade your browser Or Use google Crome
';
नयी घोषणाएं
अन्य लिंक्स
वैज्ञानिकों के लिए फैलोशिप
b3 रामालिंगास्वामी पुनः प्रवेश अध्येितावृत्ति
विदेशों में कार्य करने वाले भारतीय वैज्ञानिकों का हमारे संस्था्नों में स्वा गत ..
3 टाटा इनोवेशन अध्येतावृत्ति
बड़ी चुनौतियों के लिए नए समाधानों के मार्गों के प्रति नवाचारों को प्रोत्सामहन देना….
4 टीडब्यूटएएस अध्येतावृत्ति
भारतीय संस्थाटनों में विकासशील देशों के डॉक्टयरल और पोस्टथ डॉक्टशरल छात्रों के लिए …
1 अत्याधुनिक अनुसंधान संवर्धन और वैज्ञानिक प्रशिक्षण (सीआरईएसटी) पुरस्कार
उन्नित वैज्ञानिक प्रशिक्षण के लिए विदेश में बायोटेक अनुसंधानकर्ताओं के लिए ….
b1 डीबीटी वेलकम ट्रस्ट एलायंस अध्येतावृत्ति
भावी अग्रणियों के समर्थन द्वारा भारतीय जैव चिकित्सार वैज्ञानिकों के बीच उत्कृचष्टदता निर्माण …


रामालिंगास्वामी पुनः प्रवेश अध्येतावृत्ति

इसे देश से प्रतिभा के पलायन को वापस लाने का कार्य कहा जा सकता है। डीबीटी देश में पले बढ़े मूल्येवान वैज्ञानिक मन वापस लाने का इच्छुयक है जो अनेक कारणों से किसी ओर स्था़न पर चले गए और इस प्रकार रामालिंगास्वाामी पुन: प्रवेश अध्येेतावृत्ति भारतीय संस्थाथनों में अनुसंधान और विकास को आगे बढ़ाने के आकर्षक मार्ग प्रदान करते हुए उक्तु जैव प्रौद्योगिकीविदों के लिए बनाई गई है।

टाटा इनोवेशन अध्येितावृत्ति

बायोटेक्नोचलॉजी विभाग (डीबीटी) ने 2007 में विज्ञान में, खास तौर पर जैव प्रौद्योगिकी में बड़ी चुनौतियों के कुछ नए समाधान खोजने के लिए नवाचार को प्रोत्सा)हन देने के लिए टाटा इनोवेशन अध्ये तावृत्ति आरंभ की। इस योजना में जैविक विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी में असाधारण ट्रैक रिकॉर्ड वाले वैज्ञानिकों को मान्यकता और पुरस्कामर देने पर बल दिया गया है तथा इसमें स्वामस्य््र देखभाल, कृषि, पर्यावरण, प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण, मवेशी उत्पा दन और विनिर्माण प्रक्रम आदि में नवाचारी समाधान खोजने की प्रतिबद्धता शामिल है।

प्रमुख समाचार पत्रों और डीबीटी की वेबसाइट पर हर वर्ष सितंबर – अक्तू बर के दौरान विज्ञापन के माध्यखम से आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं।

टीडब्यूएएस अध्येएतावृत्तियां

बायोटेक्नोनलॉजी विभाग, भारत सरकार द्वारा थर्ड वर्ल्ड। अकादमी ऑफ साइंस (टीडब्यूएएस) के साथ विकासशील देशों के छात्रों को डॉक्टभरेट तथा पोस्ट डॉक्ट रेट अध्य यन के लिए जैव प्रौद्योगिकी में 50 अध्येशतावृत्तियां हर वर्ष प्रदान की जाती हैं। अध्येसतावृत्ति पाने वाले छात्र भारतीय विश्व विद्यालयों और अनुसंधान संस्थाानों में अध्यपयन करते हैं। यह कार्यक्रम इंटरनेशनल सेंटर फॉर जेनेटिक इंजीरियरी एण्डव बायोटेक्नोंलॉजी (आईसीजीईबी) के साथ मिलकर चलाया जाता है। इसके आवेदन पत्र डीबीटी और टीडब्यू्एएस की वेबसाइटों से डाउनलोड किए जा सकते हैं। पूरे किए गए आवेदन टीडब्यूडीबीएएस कार्यालय में जमा करने की अंतिम तिथि हर वर्ष 31 अगस्त को होती है।

दिशानिर्देश सहित पात्रता
अध्येतावृत्ति विवरणिका arrowdown
अनुसंधान एवं उन्नत प्रशिक्षण के लिए टीडब्यूएएस अध्येतावृत्तियां आवेदन पत्र प्रारूप arrowdown दिशानिर्देश
पोस्टतडॉक्टंरल अनुसंधान के लिए टीडब्यूएएस अध्येतावृत्तियां आवेदन पत्र प्रारूप arrowdown दिशानिर्देश
स्नाटतकोत्तर अनुसंधान के लिए टीडब्यूब एएस अध्येतावृत्तियां आवेदन पत्र प्रारूप arrowdown दिशानिर्देश
अतिथि अध्येतताओं के लिए टीडब्यूएएस आवेदन पत्र प्रारूप arrowdown दिशानिर्देश
अत्याधुनिक अनुसंधान संवर्धन और वैज्ञानिक प्रशिक्षण पुरस्कार

ये अध्ये तावृत्तियां उन्न्त वैज्ञानिक प्रशिक्षण के लिए विदेशों में बायोटेक अनुसंधानकर्ताओं को प्रदान की जाती हैं। जैव प्रौद्योगिकी और जीवन विज्ञान के आधुनिकतम क्षेत्रों में क्षमता निर्माण को प्रोत्सातहन देने पर लक्षित ये पुरस्कायर उन्हेंव विदेशी प्रयोगशालाओं में वैज्ञानिक अनुसंधान / प्रशिक्षण में अपने कौशल वर्धन के लिए उच्च्तम योग्यनता वाले वैज्ञानिकों को प्रोत्सावहन और समर्थन प्रदान करते हैं।

डीबीटी वेलकम ट्रस्ट एलायंस अध्येतावृत्ति

डीबीटी वेलकम ट्रस्टं एलायंस द्वारा क्षेत्र में भावी अग्रणियों को समर्थन देकर भारतीय जैव चिकित्साै वैज्ञानिक समुदाय में उत्कृ ष्ट्ता निर्माण पर लक्षित अध्येीतावृत्तियां प्रदान की जाती है।

विवरण के लिए यहां क्लि‍क करें (www[dot]wellcomedbt[dot]org/iaataglance[dot]html)