This website your browser does not support. Please upgrade your browser Or Use google Crome
';
नयी घोषणाएं
अन्य लिंक्स
पशु जैव प्रौद्योगिकी

animal careपशु जैव प्रौद्योगिकी (उत्पादन)

पशुधन क्षेत्र की हमारे देश की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका है। वित्तीय वर्ष 2011-12 में राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में इस क्षेत्र का योगदान करीब 3.9% प्रतिशत था। 2012-13 में 1324 लाख टन अनुमानित उत्पादन के साथ भारत दुग्ध उत्पादन में विश्व में पहले स्थान पर रहा। 69.7 अरब अंडों के उत्पादन के साथ भारत 2012-13 में विश्व का तीसरा सबसे बड़ा अंडा उत्पादक भी था।

animal careपशु स्वास्थ्य

विभाग पशुओं की कई तरह की बीमारियों के खिलाफ नई पीढ़ी के किफायती टीकों और निदान के विकास के लिए शोध एवं विकास कार्यक्रमों का समर्थन करता है। शोध एवं विकास कार्यक्रमों का जोर विकसित नमूनों, उत्पादों और प्रक्रियाओं के व्यावसायीकरण की राह तैयार करना है। इस दिशा में जोर बहु आयामी दृष्टिकोण के जरिये दिया गया है, जैसे सहभागी ट्रांसलेशनल शोध, मौजूदा परियोजनाओं का एकीकरण और राष्ट्रीय महत्व के प्रमुख पशु रोगों पर केंद्रित नेटवर्क कार्यक्रमों का संचालन।